200+ वचन बदलने वाले शब्द – Vachan Badlo in Hindi

Bachan Badalne Wale Shabd – प्यारे विद्यार्थियों स्वागत है आपका इस लेख में, आज के इस लेख में हम आपको Vachan Badlo Shabdh बताने जा रहे है, यदि आप LKG, UKG, First, Second एवं Third क्लास में तब आपके लिए यह काफी महत्वपूर्ण होने वाले है, हम आशा करते है यह आपको काफी पसंद आएंगे और आपके लिए लाभदायक भी होंगे।

कक्षा 1st से लेकर 8th तक सबसे ज्यादा प्रचलित और सबसे ज्यादा पूंछे जाने वाले सवाल Vachan Badlo Shabd सबसे ज्यादा पूंछे जाते है, कई बार ऐसा होता है की अध्यापक कक्षा में पूछ लेते है और आपको पता नहीं होता, जिससे आपको काफी शर्मिंदगी उठानी पढ़ सकती है।

इसी को देखते हुए आज के इस पृष्ठ में हम आपके साथ वचन बदलो किताब, Vachan Badlo in Hindi Words, वचन बदलो शब्द हिंदी में चोटी, Vachan Badlo Words in Hindi, वचन बदलो मटका, Vachan Badalne Wale Shabd, वचन बदलो माला, Vachan Badaliye in Hindi, रात का वचन बदलो आदि का विशाल संग्रह पेश करने जा रहे है।

वैसे तो बहुत से ऐसे शब्द है जो बचन बदलने में आते है लेकिन यहाँ लेख में हम आपको वह महत्वपूर्ण शब्द के वचन बदलेंगे जो अक्सर कक्षाओं में पूछे जाते है, जो आपके लिए काफी महत्वपूर्ण होने वाले है, चलिए ज्यादा समय ना नष्ट करते हुए इस लेख को शुरू करते है।

वचन किसे कहते हैं ?

यहाँ वचन बदलने वालों शब्दों से पहले यह जानना अधिक जरूरी है की वचन किसे कहते है एवं बचन कितने प्रकार के होते है, नीचे हम आपको इसके बारे में विस्तार से बताने वाले है और इसका उदहारण भी समझाने वाले है, इन्हे आप ध्यानपूर्वक पढ़े और समझे।

वचन की परिभांषा : वचन का शब्दिक अर्थ संख्यावचन होता है। संख्यावचन को ही वचन कहते हैं। वचन का एक अर्थ कहना भी होता है, इसके साथ साथ वचन से संज्ञा वोध भी होता है, संज्ञा के जिस रूप से किसी व्यक्ति, वस्तु के एक से अधिक होने का या एक होने का पता चले उसे वचन कहते हैं।

उदहारण : 

बकरी ख़ास खा रही है।

बकरियां ख़ास का रहीं है।

जैसा की हम जानते है की इन उदहारण से ही पता चल रहा है की “बकरी” एक होने की वोध कर रही है इसी के साथ साथ वाक्य में “बकरियां” अधिक मतलब एक से होने का बोध कर रहीं हैं, इसी वाक्य से आप पता कर सकते है की बकरी एक वचन है और बकरियां बहुवचन है।

वचन कितने प्रकार के होते है ?

वचन पूर्ण रूप से दो प्रकार के होते है, जिन्हे हम नीचे की ओर विस्तार से स्पष्ट कर रहे है।

  • एकवचन
  • बहुवचन

एकवचन : शब्दों के जिस रूप से एक वस्तु का बोध होता है, उसे एकवचन कहते हैं।

जैसे :- किताब, घोड़ा, नदी, रुपया, लड़का, गाय, सिपाही, बच्चा, कपड़ा, माता, माला, पुस्तक, टोपी, बंदर, मोर आदि।

बहुवचन : जिस विकारी शब्द या संज्ञा के कारण हमें किसी व्यक्ति , वस्तु , प्राणी , पदार्थ आदि के एक से अधिक या अनेक होने का पता चलता है उसे बहुवचन कहते हैं।

जैसे : किताबें, रूपयेलड़केगायेंकपड़ेटोपियाँमालाएँमाताएँपुस्तकेंवधुएँगुरुजनरोटियाँलताएँ, नदियां बेटे आदि

एकवचन और बहुवचन के कुछ नियम :-

आदरणीय या सम्मानीय व्यक्तियों के लिए बहुवचन का भी प्रयोग होता है लेकिन एकवचन व्यक्तिवाचक संज्ञा को बहुवचन में ही प्रयोग कर दिया जाता है।

200+ वचन बदलने वाले शब्द - Vachan Badlo in Hindi

वचन बदलने वाले शब्द

कुत्ता कुत्ते
माली मालियाँ
श्रीमती श्रीमतियों
बच्चा बच्चे
नर्स नर्से
नारी नारियाँ
चप्पल चप्पलें
मोर मोर
रात रातें
चींटी चींटियां
टुकड़ी टुकड़ियाँ
लड़ी लड़ियाँ
पंखा पंखे
बर्फी बर्फियाँ
धेनु धेनुएँ
जाति जातियाँ
डब्बा डब्बे
स्त्री स्त्रियाँ
थाली थालियाँ
फसल फसलें
कीड़ा कीड़े
औज़ार औज़ार
मोमबत्ती तियाँ
उँगली ,,
तिथि तिथियाँ
माता माताएँ
अबला अबलाएँ
ताला ताले
गली गलियाँ
मुर्गी मुर्गियाँ
वादा वादे
गन्ना गन्ने
वधू वधुएँ
झाड़ी झाड़ियाँ
इरादा इरादे
बहू बहुएं
लता लताएँ
प्याला प्याले
नोक नेकियां
घर घर
देश देश
मेका मेकए
कली कलियाँ
कलम कलमें
लड़की लड़कियाँ
लड़का लड़के
कहानी कहानियाँ
कथा कथाएँ
कविता कविताएँ
मैदान मैदान
गुड़िया गुड़ियाँ
गति गतियाँ
शाखा शाखाएँ
विद्या विद्याएँ
गऊ गउएँ
खिड़की खिड़कियाँ
पत्रिका पत्रिकाएँ
घोड़ा घोड़े
गधा गधे
साइकिल साइकिलें
पपीता पपीते
लठिया लुठियाँ
घड़ी घड़ियाँ
दीवार दीवारें
विद्यार्थी विद्यार्थीगण
महल महल
लुटिया लुटियाँ
नाली नालीयाँ
सपेरा सपेरे
कान कान
आँख आँखें
पैर पैर
टाँग टाँगें
भेड़ भेड़ें
बकरी बकरियाँ
सड़क सड़कें
गाड़ी गाड़ियाँ
दूरी दूरियाँ
चुहिया चुहियाँ
बिल्ली बिल्लियाँ
जु जुएँ
लौंडा लौंडे
परदा परदे
बात बातें
चुटिया चुटियाँ
गौ गौएँ
दाना दानें
तोता तोते
वाद्य वाद्य
भुजा भुजाएँ
रीति रीतियाँ
प्रजा प्रजाजन
कर्मचारी कर्मचारीवर्ग
दवा दवाएँ
कवि कविगण
घोंसला घोंसले
पक्षी पक्षीवृंद
ढेला ढेले
कुर्सी कुर्सियाँ
सहेली सहेलियाँ
आप आपलोग
बस्ता बस्ते
मुद्रा मुद्राएँ
अध्यापिका अध्यापिकाएँ
पुस्तक पुस्तकें
गहना गहने
गौ गौएँ
व्यापारी व्यापारीगण
मटका मटके
पौधा पौधे
डिबिया डिबियाँ
शेर शेर
बेटा बेटे
खंभा खंभे
पति पतियाँ
तरु तरुओं
वस्तु वस्तुएँ
औज़ार औज़ारे
आत्मा आत्माएँ
बर्तन बर्तन
मिठाई मिठाईयाँ
जानवर जानवर
समुद्र समुद्र
मछली मछलियाँ
पक्षी पक्षीवृंद
बादल बादल
चश्मा चश्मे
तारा तारे
सुधी सुधिजन
रास्ता रास्ते
रेखा रेखाएँ
गोला गोले
डाल डालें
साथी साथियों
मेला मेले
मुर्गा मुर्गे
चिड़िया चिड़ियाँ
केला केले
नज़दीक नज़दीकियाँ
फूल फूल
कला कलाएँ
मित्र मित्रजन
दलित दलित समाज
लता लताएँ
दीवार दीवारें
जूता जूते
शीशा शीशे
कपड़ा कपड़े
मक्खी मक्खियां
गाडी गाड़ियां

आपकी बेहद जानकारी के लिए बता दे की कुछ शब्द समष्टि मूलक होते हैं। जैसे- गण, कुल, वृन्द, समूह, वर्ग, लोग, जन, मण्डल दल, ग्राम, मण्डली आदि। ये शब्द विशेषतः वहाँ जोड़े जाते हैं, जहाँ दोनों वचनों में पुल्लिंग अथवा स्त्रीलिंग में एक ही रूप होते हैं। लेकिन यह वचन बदलो शब्दों में ही आते है।
जैसे –
पाठक – पाठकगण
आप – आप लोग
तुम – तुम लोग
छात्र – छात्रगण

विभक्तिसहित संज्ञा के शब्दों के नियम इस प्रकार हैं :-

जब अकारांत , आकारान्त और एकारांत के संज्ञा शब्दों में अ, आ , तथा ए की जगह पर ओं कर दिया जाता है। जब इन संज्ञाओं के साथ ने , को , का , से आदि परसर्ग होते हैं तब भी इनके साथ ओं लगा दिया जाता है।

जैसे :- (i) लडके को बुलाओ – लडकों को बुलाओ।
(ii) बच्चे ने गाना गाया – बच्चों ने गाना गाया।
(iii) नदी का जल बहुत ठंडा है – नदियों का जल बहुत ठंडा है।
(iv) आदमी से पूछ लो – आदमियों से पूंछ लो।
(v) लडके ने पढ़ा – लडकों ने पढ़ा।
(vi) गाय ने दूध दिया – गायों ने दूध दिया।
(vii) चोर को छोड़ना मत – चोरों को छोड़ना मत।

अंतिम शब्द 

हम आशा करते है प्रिय विद्यार्थियों आपको हमारे द्वारा यह 200+ वचन बदलने वाले शब्द – Vachan Badlo in Hindi  बेहद पसंद आए होंगे और आपके लिए काफी महत्वपूर्ण होंगे, यदि आपका इस लेख से संबंधित कोई भी सवाल हो या अन्य Vachan Badlo Shabd पाना चाहते है, तो हमें फीडबैक अवश्य दे हम उसके लिए भी जल्द से जल्द अधिक शब्द लाएंगे, जो आपके लिए महत्वपूर्ण होंगे।

यदि यह लेख आपके लिए जरा भी महत्वपूर्ण रहा है तब अपने मित्रों के साथ अवश्य शेयर करे मुझे खुसी होगी की मेरे द्वार काफी ज्यादा लोगों को फायदा हुआ।

यह भी देखे : 

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *